महोबा जिले में करीब पांच साल से नहीं छिड़की गई दवाई, गन्दगी ने ली कई लोगों की जान

जिला महोबा, ब्लाक जैतपुर, कस्बा जैतपुर। यहाँ के लोगों का कहना है कि चार-पांच साल से यहाँ मच्छर मारने की दवा नहीं छिड़की  गई है जिससे गंदगी के कारण  कई लोगों कि मौत हो गई है।प्रशासन ने अभी तक कुछ कार्यवाई नहीं की है।हरण  का कहना है कि पांच साल पहले मच्छर मारने कि दवा छिड़की गई थी। यहाँ लाइट नहीं रहती तो मच्छर बहुत लगते हैं इसी  कारण बीमारी फैलती है ।दया राम अउर प्रेम तिवारी ने बताया कि डी .डी.टी के छिड़काव  के लिए विभाग में कहा है लेकिन कोइ सुनवाई नहीं होती है।स्वछता अभियान  चल रहा है तब भी मच्छर मारने का अभियान नहीं चला रहें हैं ।वकील मोती लाल राजपूत का कहना है कि विभाग खाना पूर्ति करता है कुछ काम नहीं करते हैं।
प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डाक्टर पी.के सिंह का कहना है कि छिड़काव के लिए बहुत पैसा लगता है प्रधान से मिल कर ही छिड़काव कराया जा सकता है।

बाईलाइन-श्यामकली

27/10/2017 को प्रकाशित