महोबा जिले के नेकना के प्रेमचंद के मंगौड़े एक बार खाइए, अगली बार के लिए पैसे जमा कर के ही जाएंगे

Published on Jan 20, 2017

जिला महोबा, गांव नेकना के प्रेमचन्द्र के मगौड़ा भोत प्रसिद्ध हे। इते प्रेमचन्द्र 22 साल से मगौड़ा बनाबे को काम करत। इनके मगौड़न में कछू एसो जादू हे के जो एक बार खात बो दूसरी बार के लाने रुपईया जमा करके जात।
प्रेमचन्द्र ने बताई के हम जे मगौडा कम से कम बयालीस साल से बना रए जई जघा पे। हम आलू बंड़ा, मिर्च पकौड़ा, ब्रेड पकौड़ा, खट्टी मीठी चटनी भी बनात। जई से हमाओ रोजगार चलत जई से अपने मोड़ी मोड़ा पढ़ात लिखात।
हमाई चार मोड़ी एक मोड़ा हे सब मोड़ी-मोड़ा मिल के काम करवात। कछु हमने आपने आप से बनाबो सीखो कछु हमाय ताऊ जी बनात ते सो उन से बनाबो सीखो। जेसे कितऊ ब्याह में जात ते सो देखत ते के कैसे बनात फिर सीख गये ते सो बनान लगे अपने आप।
राम लखन ने बताई के हम इते के मगौड़ा खाबे रोज आत कम से कम हम पंद्रह साल से खा रए। इनके मगौड़ा जैसे मगौड़ा कितऊ नइ मिलत और अच्छे साफ़ सफाई से बनात। आसिम ने बताई के इते के मगौड़ा प्रसिद्ध और टेस्टी हे हमने और कितु नइ देखे पूरे महोबा जिला में एसे मगौड़ा।

रिपोर्टर- सुनीता प्रजापति