महोबा जिले के कुलपहाड़ में देखिये तहसील दिवस पर कैसे लोगों ने की लेखपाल को हटानें की दरख्वास्त

6 फरवरी को महोबा जिले के कुलपहाड़ के तहसील दिवस में रगोलिया बुजुर्ग गांव के पचास लोग लेखपाल के खिलाफ दरखास लेकर आये हैं। इन लोगों का आरोप है कि लेखपाल पैसे लेकर सर्वे करता है, इस लेखपाल को हटाया जायें। इसी गांव के बीस-तीस लोग लेखपाल के पक्ष में दरखास दे रहे हैं।
भदवारा गांव के प्रधान प्रतिनिधी रामआधार यादव का कहना है कि लेखपाल का तानाशाही रवैया है और अपनी बंदूक से मारने की धमकी देता है। गांव में कुछ काम नहीं हो रहा है, कई बार दरखास दे चुके हैं। लेखपाल को नहीं हटाया जायेगा तो हम अनशन करेगें। रुकवाहा गांव के अर्जुन का कहना है कि लेखपाल राशनकार्ड बनाने के लिए दो सौ रूपये मांग रहा है, इसलिए मेरा राशनकार्ड नहीं बना है।
रगोलिया बुजुर्ग के प्रधान महेन्द्र सिंह यादव का कहना है कि लेखपाल गांव में विवाद करता है। गरीब लोगों से पैसे की मांग करता है ओए सरकारी सम्पत्ति पर पैसा लेकर अवैध कब्जा करवाता हैं। बड़े लोगों के राशनकार्ड बनवाता हैं, गरीब लोग मारे-मारे फिरते हैं क्योंकि राशनकार्ड में लेखपाल की रिपोर्ट लगती है। ऐसे लेखपाल को हटाया जायें नहीं तो सस्पेंड किया जायें।
रामकिशुन का कहना है कि लेखपाल सही काम करता है, किसी के दबाव में आकर काम नहीं करता है। इसलिए लोग लेखपाल पर दबाव बनाना चाहतें हैं।
कुलपहाड़ के उपजिलाधिकारी राजेश कुमार यादव का लहना है कि लेखपाल और प्रधान दोनों की शिकायत आयी हैं। लेखपाल की जांच नायबतहसीलदार और प्रधान की जांच बीडीओ करेगें।जांच के बाद कार्यवाही होगी।

रिपोर्टर- श्यामकली

Published on Feb 7, 2018