महोबा के चरखारी ब्लॉक के बफरेथा गाँव में तांत्रिक की हत्या

जिला महोबा, ब्लाक चरखारी, गांव बफरेथा एते एक तांत्रिक की ह्त्या कर दई। और ह्त्या करबे वालीन ने ह्त्या कुलाडी से मार के करी। तांत्रिक के घर वालीन को कैबो हें के तांत्रिक को मिल के तीन चार आदमियन ने मिल के मारो।काय के अकेले तो मारबे की कोऊ की हिम्मत नई हती।
तांत्रिक की लड़की ने बताई के हमे तो दरोगा ने बताई के तुमाय पापा की कुलाड़ी मार के ह्त्या कर दई और हमने तो लाश भी नई देखि। तांत्रिक के भतीजे ने बताई के हमाओ बिचार हें जा तक के अकेले तो कोऊ नई मार सकत। जरुर चार पांच आदमियन ने मिल के मारो हुए।
तांत्रिक के भाई ने बताई के हमाय तो समझ नई आ रओ के कोन ने मारो हमाय भज्जा को।हमाई तो कोऊ से दुश्मनी भी नईया। हमे तो जब पतो चलो जब फोन आओ।के हमाय भज्जा की मोत हो गयी। जब हम घर से भगे सो देखो के हमाओ भज्जा जंगल में खून में लत पथ और मरो डरो। जब देखो तो कुल्हाड़ी के गेरे गेरे घाव हते।
एस आई रमेश चौहान ने बताई के कितने फोन आत ते। उन नो कैसे कैसे फोन आत ते। कोन तरा के आत ते।पतो नई चल रओ। झाड फूक वाले भी आत ते ।तो अबे नही बता सकत के फोन करके बुलाओ के का करो।
तांत्रिक की बहू ने बताई के हमाय डुकरा नो फोन आओ तो के कोऊ ने उन्हें काट डारो सो सब जने भगे उते देखो के सईं में काट डारो। तांत्रिक की बेैन ने बताई के हमे जब फोन पोचो इते से। सो हमे पतो परो सो हम हालई भगत आय और देखो के हमाय भज्जा की जा हालत हती के मुड़ी में बखा में हाँथ में गरे में छह छह आगुर गेरे और एक एक बीता लम्बे घाव हते। तांत्रिक के घर वालीन को केबो हें के और अब तो बेसे भी उनने सब छोड़ दओ तो झारबो फूकवो न कोऊ के अब इतने फोन आत ते। न कोऊ से बुराई हती गांव में। ना कोऊ के ते जात हते के जैसे पैले जात ते।झारबे के लाने। सब छोड़ दओ तो पतो नई फिर काय की दुश्मनी निकारी और की ने बे तो अच्छे हते स्वाभ के तोई कोनउ ने मार डरो।

रिपोर्टर- सुनीता प्रजापति, सरोज सैनी 

30/07/2016 को प्रकाशित