किसान की एक और परेशानी, महोबा खाद्य केंद्र में फसल बेचने में भी घोटाला

जिला महोबा, क़स्बा कुलपहाड़ के इफको खाद केंद्र पे फसल काटबे के बाद किसान सरकारी दाम पे बेचबे आत। इते अनगिनती किसान आत जीसे नंबर आत आत केऊ दिन लग जात। इते आय किसानन को आरोप हे के कछू किसान सत्ता के बल पे या बिना नंबर लगाये गेंहू की तोल करा के बेच जात।
आनंद कुमार ने बताई के किसान तीन साल से तो परेशान हते अब जैसे खेती करी हे गेंहू भओ हे तो बाबू कत के गेंहू गीलो हे। गीलो किते से हो सकत जेसी ही फसल कट के आई बेसो ही ले आय। अब हम ओरन की मजबूरी हे जैसो करत बैसो मानने परत।
राकेश ने बताई के बोरी ढेड़ सौ ग्राम की हे और काट रए तीन सौ ग्राम कह रए के माल सूखो नइया जबकि माल सूखो हे। गजाधर यादव सचिव कॉपरेटिव बैंक ने बताई के हम तो गेंहू की बेराइटी देख के तोल रए।
अगर गीलो हे तो बा हिसाब से तोल रए अगर सही हे तो ढेड़ सौ ग्राम। अगर एक ठेला पे दो कोंटल कम हो गयी तो बो को भुगत हे किसान तो देके चले जेहे फिर हम किते से भरे।

रिपोर्टर- श्यामकली

26/04/2017 को प्रकाशित