महोबा के कबरई में माता पिता का आरोप डॉक्टर की लापरवाही से हुई नवजात की मौत

जिला महोबा, गांव खन्ना 15 मार्च को खन्ना गांव को मुकेश अपनी पत्नी को डिलेवरी के लाने कबरई के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पे लिबा गये। मुकेश को आरोप हे के डॉक्टर की लापरवाही से हमाई बच्ची ख़त्म भई और पत्नी की भी हालत गंभीर हे। उतेई स्वास्थ्य विभाग ने इन आरोपन को गलत बताओ।
देवेन्द्र वर्मा सुमन को भान्जा ने बताई के हमाई बैन के डिलवरी भई तो हमे बहनोई महोबा के कबरई स्वास्थ्य केंद्र में लेके आए रात के ढाई बजे। उते डिलेवरी अच्छे से हो गयी। बच्ची नोरमल भई थोड़ी देर बाद बच्ची की सांसे थमन लगी तो हमने डॉक्टरन को फ़ोन करो और उनके घरे भी गये। लेकिन उन ने मना कर दई बोले अगर हालत गंभीर हे तो महोबा ले जाओ। रात में कोनऊ साधन नइ हतो जब सबेरे दूसरे डॉक्टर को बुलाओ बे आए उन ने जल्दी जल्दी रिफर करो लेकिन बच्ची मर गयी।
मुकेश सुमन के पति ने बताई के जब बच्ची की हालत ख़राब होने लगी तो हमने सी एम ओ को फोन करो और इते जितने भी नंबर हते सबको फ़ोन करो। जब सबेरे पे प्रजापति डॉक्टर आओ बाने देखो और जल्दी जल्दी रिफर कर दओ महोबा के लाने। उते ले गए तो बच्ची ख़त्म हो गयी। महोबा के डॉक्टर बता रए ते के अगर आधा घंटा पहले आ जाते तो बच जाती बच्ची। हमने थाने में अप्लीकेशन दे दाई पुलिस ने पांच बजे तक की बोली।
डॉक्टर महेश ने बताई के पहली बच्ची थी और बाकि तबियत खराब हो गयी ती जा से ख़त्म हो गयी। और हमाय ते बच्चन की इतनी व्यवस्था नइया। अगर बे हमाय घरे जाते तो कछू बात होती एसी कोनऊ बात भी नइ भई।
आर के रत्मेले अधिक्षक ने बताई के हमाए जो महेश डॉक्टर हे बे ड्यूटी पे हते। मरीज ने फोन करो हुए उन ने जो भी कई होबे। लेकिन हमने दूसरे डॉक्टर को भी भेजो तो और जो भी हुए बाके खिलाप कारवाही करी जेहे।

रिपोर्टर- सुनीता प्रजापति

Published on Mar 16, 2017

महोबा के कबरई में माता पिता का आरोप डॉक्टर की लापरवाही से हुई नवजात की मौत