महिला हिंसा के अन्य भद्दे रूप शादी के रिश्ते में कहीं छुप जाता है, देखिये बांदा की ऐसी एक खबर

हमारे देश में महिला हिंसा के मामले अब आमबात की तरह हो गये हैं किसी महिला का मारापीटा जाना, उसे घर से बाहर निकाल देना, उसे कमरे में बंद कर देना, भूखाप्यासा रखना और कई बार जान तक ले लेना अब आम बात लगने लगी है पुरुष ताकतवर है इसलिए वो महिला पर अत्याचार करता चला रहा है

ताज़ी घटना बाँदा की है जहाँ 20 साल से शादी के बंधन में बंधे चुन्नू और केला देवी अब एक दूसरे का मुंह तक नहीं देखना चाहते केला का आरोप है कि चुन्नू सालों से उस पर अत्याचार कर रहा है कभी मारता है तो कभी घर से निकाल देता है तंग कर अब केला अपने मायके कर रहने लगी है

केला कहती हैं, शादी को 20 बरस हो गये हमारे कोई बच्चा भी नहीं हैं उसके बाद भी हम अच्छे से रहने की कोशिश में लगे रहते हैं लेकिन हमारे पति हमको सुख से नहीं रहने देते आये दिन गालीगलौच करते हैं और मारते हैं

इस बारे में चुन्नू सफाई देते हुए कहते हैं कि मैं कभी उससे लड़ने नहीं जाता बल्कि वो खुद ही इसी बात कर देती है कि लड़ाई हो जाती है मेरा स्वभाव ऐसा है ही नहीं अपनी मर्जी से रोज मायके चली जाती है

विवाद का दूसरा बड़ा कारण यह भी है कि दोनों के बच्चे नहीं हैं और इसका सारा जिम्मा केला पर है चुन्नू शराब पी कर अपना सारा गुस्सा केला पर निकाल देता है और केला फिर घर छोड़ मायके चली जाती है

रिपोर्टर- शिवदेवी 

Published on Jul 14, 2017