महिला मुक्केबाज़ों के गर्भ जांच पर सवाल

डाक्टर पी.एस.एम. रामचंद्रन
डाक्टर पी.एस.एम. रामचंद्रन

नई दिल्ली। भारत की हाल ही में बनी महिला मुक्केबाज़ी की संस्था ‘बाक्सिंग इंडिया’ में महिला मुक्केबाज़ों का प्रेग्रनेंसी टेस्ट (उनके गर्भ का परीक्षण) यह जानने के लिए कराया कि कहीं वह गर्भवती तो नहीं हैं।
कोरिया देश में अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर होने वाली विश्व चैंपियनशिप में इन महिला मुक्केबाज़ों को हिस्सा लेना है। भारतीय खेल प्राधिकिरण के सलाहकार डाक्टर पी.एस.एम. रामचंद्रन ने यह खुलासा किया। उन्होंने कहा कि आठ गैर शादीशुदा महिला मुक्केबाज़ों का परीक्षण कराया गया। महिला खिलाडि़यों को यह सर्टिफिकेट जमा करना होता है कि वह गर्भवती नहीं हैं। लेकिन परीक्षण कराने का नियम नहीं है। चांैकाने वाली बात यह है कि भारतीय खेल प्राधिकरण ने भी इसका विरोध नहीं किया है।