महिला दिवस का महत्व

क्या आप जानते हैं महिला दिवस की जड़ें मजदूरों के अधिकार के आन्दोलन से जुड़ी हैं? आज से एक सौ पांच साल पहले अमेरिका देश में महिला मजदूरों ने अपने हक की मांग की थी और वहीं से जन्मा ये दिवस। आज इस दिन को दुनिया भर में मनाया जाता है। जिला बांदा ब्लाक महुआ। यहा पर 8 मार्च 2013 को जी.डी. मांटेवरी प्राईवेट स्कूल में अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस मनाया गया। इस कार्यक्रम में महुआ के प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र की महिला डाक्टर मीनाक्षी ने कहा कि बेटी बेटा में भेद भाव नहीं करना चाहिए। इसी गांव से विमला, माया, रेखा, फूला आदि ने बताया कि हम पहली बार महिला दिवस के बारे में जान पाये हैं। यह कार्यक्रम बहुत अच्छा लगा है। हमें आज पता चला कि हमारे लिए भी एक दिन होता है।