महिला का नौकरी करना नहीं आया रास, रिश्तेदार ने झूठी शान के लिए की हत्या

साभार: पिक्सेल्स

राजस्थान के अलवर में एक 32 वर्षीय महिला को खुलेआम उसके पति के रिश्तेदार ने मार दिया।
बताया जा रहा है कि महिला एक फैक्ट्री में नौकरी करती थी। 15 मार्च की सुबह जब ऊषा काम पर जा रही थी तो 60 वर्षीय ममराज ने उस पर तलवार से हमला कर दिया और महिला की मौके पर ही मौत हो गई।
मामले की जांच कर रहे एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि आरोपी ने महिला को तलवार से तब तक मारा, जब तक वह मर नहीं गई। हत्या के बाद आरोपी भाग गया।
एक अंग्रेजी अख़बार के अनुसार, ममराज ने महिला को कई बार नौकरी छोड़ने के लिए कहा था लेकिन महिला ने उसकी बात नहीं मानी। ममराज को लगता था कि महिला का नौकरी करनापारिवारिक मूल्योंके खिलाफ है।
पुलिस ने बताया कि ऊषा और उनके पति मुकेश राजपूत अपने बच्चों को बेहतर शिक्षा देने के लिए कड़ी मेहनत करते थे। उनकी आर्थिक हालत काफी खराब थी इसलिए दोनों को काम करना पड़ता था।
ऊषा के पति मुकेश ने अपने रिश्तेदार से उनके मामलों में दखल देने को भी कहा था। इतना ही नहीं, मुकेश अपनी पत्नी का पूरा समर्थन करता था।
इतना ही नहीं उषा ने अपने अपने पति के रिश्तेदार को समझाने की बहुत कोशिश की लेकिन वह हमेशा यही कहता रहता था कि महिलाओं का बाहर नौकरी करना उनके परिवार के सम्मान के खिलाफ है।