महिला अपराधों पर क्या कहना है बाँदा एस पी का ?

जिला बांदा। हेंया मेहरिया हिंसा रुके का नाम नहीं लेत आय। हर हफ्ता मेहरियन के कउनौ न कउनौ घटना सामने आ जात हैं।जैसे बबेरू के रहे वाली किरन के लाश वहिके घर मा लटकी मिली है अउर तिंदवारी के नरी गांव मा एक अज्ञात लड़की के लाश कुंआ मा मिली है।मेहरिया अपराध के बारे मा पूछे खातिर हम बात बात करे हन एस.पी.शालिनी से।एस.पी.शालिनी जुलाई से बांदा के कानून व्यवस्था देखत हैं। एस.पी.शानिली का कहब है कि अपराध खतम करे खातिर मेहरियन का जागरूक करे का पड़ी जबै मेहरिया जागरूक होइहैं तौ आत्मविश्वास से आपन लड़ाई लड़ सकत हैं तकनीकी व्यवस्था के कारन भी मेहरिया हिंसा बढ़ी हैं।जबै तक हम सहिब तबै तक हिंसा होइ। यहै कारन मेहरियन का चुप्पी तोड़ के खुद आवाज उठावे का चाही।
किरन का लड़का लवकुश बताइस कि घरेलू लड़ाई के कारन घटना भे है।
किरन का बाप मुन्ना बताइस कि हमार एक लाख दहेज वापस कइ दें यहै वहिके सजा होइ।
नरी गांव का प्रधान गौतम सिंह बताइस कि कुंआ मा जउन पहिचान भे है वहिके पहिचान नहीं भे आय।

बाईलाइन-मीरा देवी
02/11/2017 को प्रकाशित