महिलाओं को हर क्षेत्र में आगे आना चाहिए – नंदिता दास

Vish - 1नई दिल्ली। खबर लहरिया द्वारा आयोजित कार्यक्रम में फिल्म अभिनेत्री नंदिता दास 27 फरवरी 2014 को मुख्य अतिथि के रूप में आईं। छोटे शहरों में काम कर रही महिला पत्रकारों के अनुभवों पर आधारित एक रिपोर्ट और इन पत्रकारों के पहले नेटवर्क के शुरुआत की घोषणा की।
नंदिता दास ने कहा कि वे महिलाओं और पुरुषों के बीच के भेदभाव के खिलाफ हैं और उन्हें नहीं लगता कि पत्रकारिता जैसे काम में महिलाओं को नहीं होना चाहिए। महिलाओं के सशक्तीकरण का समर्थन करते हुए उन्होंने बताया कि उन्हें खुद भी चुनौती भरा काम करने में बहुत मज़ा आता है। उनकी दस फिल्मों में से कई ऐसी फिल्में हैं जिनमें महिलाओं को संघर्ष करते हर तरह की समस्या का सामना करते हुए दिखाया गया है। उन्होंने सरकार पर भी पुरुष प्रधान होने का आरोप लगाया और बताया कि कैसे जब वे घर से बाहर निकलीं तो उन्होंने देखा कि महिलाओं के लिए कहीं पर ढंग के शौचालयों तक की व्यवस्था नहीं होती हैै।
उन्होंने खबर लहरिया अखबार और अन्य राज्यों से आई महिला पत्रकारों के काम को सराहा और कहा कि महिलाओं का हर क्षेत्र में आगे आना ज़रूरी है तभी इस समाज का ढांचा बदल सकता है।