महात्मा गांधी की 150वीं जयंती को ग्लोबल इंवेट बनाने की राष्ट्रपति की अपील

साभार: विकिमीडिया कॉमन्स

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150 वीं जयंती मनाने के तरीकों पर बातचीत के लिये राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की अपील पर एक बैठक हुई।  जिसमें सभी कैबिनेट मंत्रियों ने अपने अपने सुझाव रखे।
इस बैठक में मोदी ने कहा कि गांधी की कृतियों को जीवन में आत्मसात किया जाना चाहिये ताकि आने वाली पीढ़ियां उन्हें याद करें और समारोह ‘ जनांदोलन ‘ के रूप में होना चाहिये।
बैठक के बाद मोदी ने अपने ट्वीट में कहा , ‘‘ हमें इस बात को सुनिश्चित करना चाहिये कि दुनिया में अधिक से अधिक लोग बापू की महानता को जानें।”
सूत्रों के अनुसार, विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने कहा कि उनका मंत्रालय दुनिया के 193 देशों में कार्यक्रम आयोजित करने की योजना बना रहा है और कई जगहों पर एक साझा कार्यक्रम आयोजित होगा।
जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने गांधीजी की 150 वीं जयंती को शांति और सुलह के साल के रूप में मनाने का प्रस्ताव दिया।  बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि उन्होंने गांधी के संदेश को राज्य के हर घर तक पहुंचाने के लिये ‘ बापू आपके द्वार ‘ कार्यक्रम पहले ही शुरू किया है।