महरौनी से बानपुर तक बन रही सड़क..

जिला ललितपुर, ब्लाक महरौनी इते सड़क बनाबे के लाने बहार से आय मजूर आदमी लेकिन इन्हें रेबे के लाने ठेकेदार ने केवल पन्नी दई जीमे बे अपनो गुजारो कर रए अपने मोड़ी मोड़ा पाल रए।
फूला ने बताई के हम मथुरा सेमरा से आय मजूरी करबे के लाने।
मीना ने बताई के हम गट्टी डारबे को काम करत सड़क पे इते हम ओरे भादों के महीना से आय चार महीना हो गये और अपने संगे मोड़ी मोड़ा लोआय।
गेदा ने बताई के पूरे दिन गट्टी डारत फिर शाम के डस और मट्टी डारत। काय के ठेका पे कर रए काम जब कऊ एक दिना के दो ढाई सौ कमा पात।
जयराम ने बताई के पन्नी की टपरिया बनाए बा में रत हम ने तो पूरी बरसात टपरिया में काड दई ठेकेदार से कछु सुविधा नईया जेई पन्नी दई अकेली बस। रुपईया तो हर आठ दस दिन में मिलत रपईया की चिंता नईया।

रिपोर्टर- सुषमा 

13/10/2016 को प्रकाशित