महंगाई करै बेहाल

देखै खातिर सब्जी
देखै खातिर सब्जी

चित्रकूट जिला मा या समय सब्जी बहुतै महंगी हवै। यहै से बेचैं वाले अउर खरीदै वाले दूनौ परेशान हवैं। या समस्या से लगभग छह महीना से हवै।
मानिकपुर ब्लाक, रानीपुर गांव के देवरतिया अउर फूला का कहब हवै कि गरीबी बहुतै हाल बेहाल कीने हवै। उपर से सब्जी कमर तोड़ै मा लाग हवै। नवा आलू एक सौ पचास रूपिया पसेरी हवै। वा खरीदै मा पसीना आवत हवै। हर सब्जी के कीमत आसमान छुये मा लाग हवै। हमरे लगे येत्ता रूपिया नहीं आय कि महंगा सब्जी खा सकन। यहै से गरीबी मा सूख रोटी खाये का परत हवै।
कर्वी ब्लाक, मुहल्ला भरतपुरी मा रहैं वाले शब्बीर कहिस कि इनतान लागत हवै कि या दरकी सब्जी देख के मन का संतोष लगावैं का परी।
मानिकपुर अउर कर्वी के सब्जी बेचैं वाले मोती अउर सुखिया कहिन कि हम का कइ सकित हन। हमका खुदै मंहगी दाम मा सब्जी मिलत हवै। सब्जी महंगी होय के कारन कत्तौ कत्तौ सड़ जात हवै। यहिसे नुकसान होइ जात हवै। किराया भाड़ा तक नहीं निकल पावत हवैं