मरीज अउर कर्मी दुनु के हई परेशानी

खराब परल चापाकल
खराब परल चापाकल

जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड  बथनाहा, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में प्रसव के रूम में लगभग पच्चीस दिन से पंखा अउर पांच छौ दिन से चापाकल खराब हई। लेकिन इ समस्या पर स्वास्थ्य विभाग के लोग जल्दी ध्यान न देई छथिन। जबकि इ गर्मी में पानी अउर बिजली के सबसे ज्यादा जरूरत होई छई।
इहां के प्रसव वाली महिला के सास लरूवती देवी, रागनी देवी के माई मिना देवी कहलथिन कि एक त भयानक गर्मी हई दोसर में प्रसव वाली दर्द से व्याकुल छथिन। लेकिन इ अस्पताल के डिलि

वरी रूम में एको गो पंखा न हई जेई कारण मरिज अउर उनका गारजियन ममता ए.एन.एम. सब परेशान रहई छथिन। ममता राजकुमारी देवी, ए.एन.एम. सब कहलथिन कि पंखा त पंखा हई, इ गर्मी में चापाकल भी चार दिन से खराब हई। दिन भर में रात तक दस पंद्रह डिलेवरी होई छई। हम सब हाथ में गंदगी लगयले रहई छी त हाथ धोये ला पानी न रहई छई। हम सब कतेक बेर बाहर हाथ धोये जाउ अउर इ समस्या के जानकारी हम सब मैनेजर के देले छी।
स्वास्थ्य प्रबंधक आदित्य कुमार कहलथिन कि पंखा बीस पच्चीस दिन से खराब हई त हम बनवा देली। अब लगाबे के काम हमरे हई? चापाकल त चार दिन से खराब हई समस्या त बहुत बड़ा हई। लेकिन सब काम कुछ दिन में हो जतई।