मनसवा का कउनौ पता नहीं लागत

जिला चित्रकूट, ब्लाक कर्वी, लक्ष्मणपुरी। एते कें रहे वाली किरन का आरोप हे कि ऊखे आदमी लालाराम का दुबारी गांव के हीरालाल जनवरी के महीना मे इलाहाबद कमाये खे लाने ले गये हते। तबै से अभे तक कोनऊ पता नई लगो हे। इके लाने मैंने कर्वी कोतवाली में केऊ दरकी सूचना दई हे, पै आदमी को कोनऊ पता नईं लगो आय।
किरन खा कहब हे कि आदमी को कमाये खे लाने हीरालाल अपने साथै जिवा गओ हतो। ऊ सब लोग इलाहाबाद से आ गये हें पै मोरे आदमी को कोनऊ पता नई लागो हे। हीरालाल से अपने आदमी खे लाने पूंछत हों तो वा कहे देत हे कि वा मोये साथे नहीं गओ आय। मोरे आदमी का मिर्गी के बीमारी हे। इसे ऊखा थोइ दिमाग भी खराब रहत हे। ऊपर से वा विकलांग भी हे। इसे अपने आदमी के चिंता लाग रहत हे कि हीरालाल मोय आदमी खा पता नई कहां छोड़ के चलो आओ हे। मोय दो छोट-छोट बच्चा हें। उनको पेट में मजदूर कर खे पालत हों। लालाराम का फोन नंबर 9794288733 हे ओर पुनिया का मोबाइल नंबर 8858599924 हे। इं नंबर में फोन लगा खे लोग मोखा बता सकत हे। अगर कोनऊ खा पता चले।
हीरालाल खा कहब हे कि में लालाराम का अपने साथै नहीं लिवा गओ हों। हम लोग जात हते तो वा अपने से गाड़ी मे चढ़ के चलो गओ हे। ऊखी औरत हमाये ऊपर झूठै आरोप लगाउत हे।
कर्वी कोतवाली के दरोगा मनोज कुमार को कहब हे कि किरन को केऊ दरकी बोलाओ गओ हे। ऊखो खुद कोनऊ पता नहीं रहत हे। किरन पेहले तौ इलाहाबाद मे अपने अदमी के गुमशुदगी खे रिर्पोट लिखा दई हे। ऊखे अदमी का ढूढ़ैं के लाने हीरालाल से कहो गओ हे। वा पता लगा के बताहे।