मनरेगा में धांधली की एक और मामला, इस बार चित्रकूट जिले के बरगढ़ में

जिला चित्रकूट, ब्लाक मऊ गांव बरगढ़ ट्रेक्स के मड़इन का बाहर जायें से रोके खातिर अउर गांव मा रोजगार के व्यवस्था करे खातिर मनरेगा योजना बनाई गें रहै।पै लापरवाही अउर धांधली के कारन मजूरन का उनके मजूरी सही समय मा नहीं मिल पावत आय।
बरगढ़ मा रोजगार सेवक का अगस्त 2016 से वेतन नहीं मिलत आय। यहिके खातिर उंई कइयौ दरकी डी.एम.का दरखास दिहिन हवैं पै वेतन के जघा भरोसा बस मिला हवैं।
रोजगार सेवक संगम लाल अउर बृजेश का कहब है कि सितम्बर 2016 मा हम वेतन बढ़ावैके मांग का लइ के धरना प्रदर्शन करे हन।जेहिमा छह महीना होय के बाद भी अबै तक वेतन नहीं मिला आय।जेहिसे कर्जा लइ के काम चलावे का पड़त हवैं।रोजगार के कमी होये के कारन बिना वेतन मिले काम करे का मजबूर हन।
रोजगार सेवक माखन लाल का कहब हवै कि महतारी बाप से रुपिया लइके काम चलाइत हवै। कत्तौ-कत्तौ गेहूं चना बेंच के भी आपन खर्चा चलाइत हवै। कइयौ दरकी डी.एम.से वेतन का कहे हन।
मऊ ब्लाक के लेखाकार अतुल कान्त का कहब हवै कि फरवरी 2017 तक का वेतन भेंज दीन जई। सही समय मा मैं जिला कार्यालय का लिख के भेंज दीने रहेंव।

रिपोर्टर- सुनीता देवी

Published on Apr 28, 2017