मध्य प्रदेश में पगड़ी पहनने पर दबंगों ने दलित के सिर की चमड़ी उधेड़ी, बसपा का आरोप

मध्यप्रदेश के नरवर थाना क्षेत्र के तहत महोबा गांव में कथित तौर पर नीली पगड़ी बांधने को लेकर अनुसूचित जाति के एक 45 वर्षीय व्यक्ति से दंबगों ने मारपीट की और उसके सिर की चमड़ी उधेड़ डाली। पीड़ित को गंभीर हालत में ग्वालियर के जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया।

पुलिस ने इस घटना के सिलसिले में तीन आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। आरोपियों की तलाश जारी है।

शिवपुरी से 50 किलोमीटर दूर महोबा गांव की यह घटना है। तीन सितंबर को तीनों आरोपियों ने जाटव को सुरेंद्र गुर्जर के घर बुलाया और कुछ बातों को लेकर गाली-गालौज शुरू कर दी। एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक, बात आगे बढ़ती गई और तीनों ने उस्तूरे से जाटव के सिर की चमड़ी उतार डाली।

वहीं, इस घटना को लेकर बसपा कार्यकर्ताओं ने पार्टी जिलाध्यक्ष दयाशंकर गौतम के नेतृत्व में आज यहां पुलिस अधीक्षक को एक ज्ञापन सौंपा और आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की। गौतम ने आरोप लगाया कि दबंगों ने जाटव के सिर की चमड़ी इसलिए उधेड़ दी क्योंकि वह नीली पगड़ी बांधता था और बसपा से जुड़ा हुआ है।