मदर टेरेसा की संस्था में पकड़ा गया बच्चे बेचने वाला रैकेट

साभार: विकिमीडिया कॉमन्स

मदर टेरेसा की संस्था मिशनरीज ऑफ चैरिटी की रांची स्थित संस्था पर एक नवजात को बेचने का आरोप लगा है। इस मामले में पुलिस ने एक कर्मचारी और दो सिस्टर को हिरासत में लिया गया है।

आरोप है कि यहाँ की महिला संचालक अब तक आधा दर्जन नवजात को बेच चुकी है। चाइल्ड वेलफेयर कमेटी की जांच में खुलासा हुआ है कि एक बच्चा के एवज में 1.20 लाख रुपये तक लिये गये थे। होम की कर्मचारी अनिमा इंदवार शक के घेरे में है।

पुलिस के अनुसार, खुद अणिमा ने स्वीकार किया कि अब तक आधा दर्जन नवजात को चैरिटी होम की संचालिका सिस्टर कोनसीलिया के साथ मिलकर बेच चुकी है। मानव तस्करी और अवैध रूप से बच्चा बेचने का मामला सामने आने के बाद पुलिस जांच तेज़ कर दी है।