मतगणना के दिन ही महिला उम्मीदवार के रास्ता मा हत्या

b korhi ganv mahila mudda jubaeda khatun ki hatyaजिला बांदा, ब्लाक बिसण्ड़ा गांव कोर्रही। हेंया के प्रधान प्रत्याशी जुबैदा खातून के हत्या 13 दिसंबर का सुबेरे कई दीन गे। पुलिस सूचना पा के मौके मा पहुंच के लाश का पोस्टमार्टम के बाद वहिके परिवार का सउंप दिहिस।
जुबैदा खातून के महतारी का कहब है कि जबैदा के शादी सात साल पहिले करेंव। वहिका मनसवा हमेशा से बाहर रहत है। मोरे लड़की के ऊपर टोना टोटका करा दीन गा रहै। या मारे गिनती होय के तीन दिन पहिले से जुबैदा घर मा न रहै। जुबैदा खातून आपन एजेण्ट के साथै गिनती करावैं जात रहै। वहै समय थोई देर मा सुनै का मिला कि जुबैदा के लाश नहर किनारे परी है। कउनौ मार डाला है। मोरे चार लड़कियन मा वा सबसे बडी रहै। गांव का यूसूफ खां जुबैदा का चुनाव लडै़ खातिर ठाढ़ करिस रहै। आपन हार जीत का नतीजा सुनै से पहिले ही मर गे। अब हमार शक वहिके ऊपर है। काहे से चार दिन से वहिके घर मा रही है अउर वहिके मोटर साइकिल मा बइठ के गिनती करावैं जात रहै।
घटना का पीडि़त चश्मदीद गवाह यूसूफ खां बताइस कि जुबैदा का मनसवा आपन भाई साथै जुबैदा के गले मा चाकू मार के हत्या कई दिहिस। मैं बचावैं के कोशिश करेंव तौ मोहिका भी मारिन है। मोरे भी चोटे आई है। कउनौतान मैं जान बचा के बिसण्डा थाना आयेंव अउर रपट लिख जाय के दरखास दीने हौं।
गांव के मड़इन मा फुस-फुस होत रहै कि जउन भा है, तौ नीक भा है। जुबैदा का चाल चलन ठीक नहीं रहा आय। जुबैदा के मनसवा से एजेण्ट यूसुफ खां के साथ रहब चलब प्रेम करब नहीं देखा गा। या मारे वा मार डारिस है।
बिसण्डा थाना एस.ओ. आर.पी. सिंह का कहब है कि हत्या वहिका मनसवा ही करिस है। वहिके ऊपर अपराध संख्या 3/15 हत्या के धारा 302 का मुकदमा लिखा गा है।