मड़ई मा करत गुजारा

ganv photo fainalजिला फैजाबाद, ब्लाक मया, गांव काजीपुर गाडर, मजरा मण्डक कोटवा। हिंआ छह महीना भै आवास खातिर फार्म भरा बाय। लकिन अबहीं ले कउनौ खबर नाय बाय कि आये या नाय।
रीता, लुभना, धनपति बताइन कि हमरे सब छान-छप्पर मा गुजारा करत बाटेन। जब बरसात कै दिन आवाथै मड़ई से पानी चुआथै। तौ कहूं बैठै का ठउर नाय रहत। सारा दिन रात सब सामान यहि कोने से वहि कोने टरतै बीताथै अगर केहूं नात बात आय जाथै तौ कहां बैठावै उठावै। अगर हमरे सबके पास एक कुटका घर बन जात तौ कम से कम समान कपड़ा थोर बहुत राषन गल्ला जौवन बाय ऊ सब बचा रहत।
खेतौ बारी ज्यादा नाय बाय कि कुछ धान गेंहू बेंच के घर बनावै की खातिर व्यवस्था करी राषन खरीद के खाय जाथै प्रधान से कहे पै बस इहै कहा थे आय जाये लकिन आवत नाय।
प्रधान सुरजी देवी बताइन कि हम अपने पूरे ग्रामसभा कै फार्म भरिके जमा कै देहे हई लकिन अबहीं ले कहंू कै नाय आय बाय जब आये तबै तौ दै पाऊब। लेखपाल केषवराम गुप्ता बताइन कि आवास एक महीना के अन्दर सबकै आय जाये।