मजदूरी करने के लिए मारते हैं सास-ससुर, ये कहना है चित्रकूट की मीरा का…

जिला चित्रकूट, ब्लाक रामनगर, मुहल्ला हनुमत नगर हियां रहै वाली मीरा का दहेज के काइन ससुराल वाले 2 साल पहिले घर से निकाल दिहिन रहै। ससुराल वाले या आरोप का झूठ बतावत हवैं।
यहिके खिलाफ राजापुर थाना मा रपट कइ दीन गे हवैं। मीरा बतावत हवै कि 8 साल पहिले मोर शादी मुहल्ला भैरम पुरमा रहै वाले धरम बीर के साथै भे रहै। मायका अउर ससुराल दूनौ अगल बगल के मुहल्ला मा हवैं। ससुराल वाले 50 हजार रुपिया अउर मोटर साइकिल के मांग का करत रहै। मोर गरीब महतारीबाप या मांग का पूरी नहीं कइ पाये तौ उई मोहिका 2 साल पहिले घर से निकाल दिहिन हवैं। 1 महीना पहिले उंई मोरे साथै फिर मारपीट करिन। यहै कारन मैं राजापुर मा दहेज अउर मारपीट के रपट लिखाये हौं। मोर एक लड़का हवैं। कउनौतान मजूरी कइ के आपन अउर लड़का के पेट पालत हौं।
मीरा के ससुर चोखनलाल का कहब हवैं। कि हम वहिके साथै मारपीट नही करेन आहिन। न हम वहिका घर से निकाले हन। वा झूठ बोलत हवैं। अपने से चली गे हवैं।
राजापुर थाना के बड़े दरोगा शैल कुमार का कहब हवै कि मारपीट अउर दहेज के रपट लिख गे हवैं। कोट मा मुकदमा चलत हवैं।

रिपोर्टर- सहोद्रा

29/10/2016 को प्रकाशित