मउत के घाट उतारेन ससुराल वाले

सीमा के महतारी बाप
सीमा के महतारी बाप

जिला बांदा, ब्लाक महुआ, गांव मकरी अउर ब्लाक तिन्दवारी, गांव भवानीपुर। इं गांवन के दुई बिटियन का ससुराल वाले दहेज कम मिलैं के आड़ से मउत के नींद सुला दिहिन। ऊपर से मइके वालेन का राजी होय का थाना मा धमकी दिहिन हैं।
मकरी का हरि गोपाल कहत है-“मैं आपन बिटिया सीमा के शादी अतरहट गांव के ब्रजमोहन साथै दुई साल पहिले करे रहांै। शादी होय के बाद ससुराल वाले दहेज मा एक लाख रूपिया नगद अउर चार पहिया गाड़ी मांगत रहंै। बिटिया साथैं मारपीट करत रहैं मारपीट करैं से उनकर गुस्सा नहीं शांत भा तौ 5 जुलाई 2014 का जिन्दा जला दिहिन। सीमा के एक लड़का है। हमैं जबै मोहल्ला वालेन से पता चला तौ आवा । हम सास रज्जी, ननद रूबी देवी, मनसवा ब्रजमोहन अउर ससुर राम बरन सिंह के खिलाफ चिल्ला थाना मा रपट लिखाये हन। सीमा के सास रज्जी अउर ननद रूबी कहत है। कि मेहरिया मनसवा लड़ाई करिन है। सीमा खुदै मिट्टी का तेल डाल के जल गे है। यहिके सूचना हम चिल्ला थाना का दीन पुलिस मौके मा आ के पंचनामा कइके लास पोस्टमार्टम खातिर जिला अस्पताल भेज दिहिस है। चिल्ला थाना का एस.ओ. आर.बी. सिंह का कहब है कि ससुराल वालेन के खिलाफ धारा 498 ए (दहेज हत्या) 304 इलाज के दौरान मउत अउर 3/4 दहेज प्रतिशेध अधिनियम के तहत मुकदमा लिख गा है।
भवानीपुर का फूलचन्द्र कहिस-“बिटिया जानकी के शादी पिछले साल 19 मई 2013 मा बिसण्डा ब्लाक के गांव भदेहदू मा हरिशचन्द्र साथैं करे रहौं। दहेज कम मिलंै के आड़ मा ससुराल वाले बिटिया का मार डालिन। उंई दहेज मा सोने के जंजीर भैंस अउर बीस हजार रूपिया मांगत रहै। हम बबेरू कोतवाली मा रपट करे गवा तौ थाना मा ही जानकी का जेठ हरिलाल राजी होय का दबाव बनावत रहै। धमकी देत रहै कि अगर राजी न होइहे तौ अबै जउन रिश्तेदारी मा तोरी अउर बिटिया बियाही हैं उनके साथै भी यहै तान होई। एस.ओ. ठाड़े सुनत रहै, पै कुछ बोला निहाय। यहै मा उनकर हौसला बुलंद है। ”
जेठ हरिलाल कहत है कि घर मा कोऊ नहीं रहै। मेहरिया मनसवा के लड़ाई भे तौ वा आपन मन से आगी लगा के जल गे है।
बबेरू कोतवाली का दरोगा कमलेश यादव कहिस कि सूचना आई है, तौ हम मइके मा जा के जांच कीन है। पंचनामा कइके पोस्टमार्टम खातिर जिला अस्पताल भेज दीन गा है। डाक्टरी रिपोर्ट आवैं के बाद आगे के कारवाही कीन जई।