मंडरा रहा है गंभीर जल संकट

0e360c17-60e0-4a1e-9252-def81f54d0d8क्या आप जानते हैं – देश में कितने जिले सूखे की मार झेल रहे हैं? देश की लगभग 33 करोड़ आबादी आज सूखे से परेशान है। अब तक 675 जिलो में से 256 जिले सुखा-ग्रस्त घोषित हो चुके हैं। इनमें देश के 40 फीसदी जिले और 130 तहसील भी शामिल हैं। पानी की किल्लत महाराष्ट्र के मराठवाडा की याद दिला रही है। हालांकि, बुंदेलखंड के लिए नए हैंडपंप और टैंकरों की घोषणा हो चुकी है। लेकिन इनसे राहत मिलना नामुमकिन सा प्रतीत होता है।
आइए, आपको बताते हैं कि भारत के 91 प्रमुख जलाशयों में कितना पानी बचा है-
केंद्रीय जल विभाग द्वारा प्राप्त आंकड़ो से यह पता चलता है कि 91 प्रमुख जलाशयों में सिर्फ 23 फीसदी पानी बचा है। मानसून अभी दो महीने दूर है और जलाशयों का गिरता जलस्तर खतरे की घंटी बजा रहा है।
पिछले साल की तुलना में आज जलस्तर काफी कम है। यूंही नहीं, यदि पिछले दस सालों की तुलना की जाए तो आज औसतन न्यूनतम स्तर पर है।
फिलहाल, अभी तक किसी भी प्रान्त के बांध में 35 प्रतिशत पानी भी नहीं है जिसे लोगों के लिए छोड़ा जा सके। दक्षिण भारत के बांध में सिर्फ 15 फीसदी पानी बचा है जो बाकी क्षेत्रों से कम है। पश्चिम भारत के जलाशयों में भी 18 प्रतिशत पानी बचा है। पूर्व भारत में 34 प्रतिशत और मध्य भारत के क्षेत्रों में 31 प्रतिशत पानी शेष है।