भूंसे के वितरण में भेद -भाव का आरोप

जिला महोबा, ब्लाक जैतपुर, गांव कमलपुरा और अतरठा में 29 जून खा जानवरन के लाने सरकार की तरफ से भूसा बंटो हतो, पे पात्र लोगन के जानवरन का भूसा नई बांटो गओ हे। जीसे लोग परेशान हें। प्रशासन ने एक ट्रक भूसा भेजो हतो। जिसे 251 लोगन ही ले पाय
बलवंत सिंह यादव कहत हे कि सरकार की तरफ से बड़े और रुपइया वाले किसानन के जानवरन का भूसा बांटा जात हे। जभे कि मैं गरीब और पात्र किसान अपने जानवरन के लाने भूसा को परेशान हों।
धर्मदास बताउत हे कि मोय पास ग्यारह जानवर हें। खेती मे तीन साल से कछू पैदा नई भओ हे। जीसे मोय जानवर भूखे फिरत हें।
हरिशचंद यादव कहत हे कि सरकार जभे भूसा बांटत हे तो सूचना देत हे,पे कछू लोग अपने घरन में नई रहत हें। काय से कि खेत खलिहान चले जात हें। जीसे उनख पता नई चलत हे। जी मोखा पता परो कि भूसा बटत हे तो मैं गओ हतो तो मोखा भूसा नई मिलो हे। सूखा परे खे कारन से मोय ऊपर पचास हजार रुपइया को कर्जा हे। मैं पंद्रह जावरल पाले हों। अपने जानवरन का भूसा खरीद के खवात हों।
उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी एस.के तिवारी कहत हें कि इ क्षेत्र में दो सौ बावन गांव लगत हें। लघु ओर सीमांत किसानन के जानवरन खा भूसा बांटो जात हे। पुलिस का लगा के किसानन खा भूसा बांटो गओ हे। कछू बड़े किसान हें जोन गलत बात करत हें।

1/07/2016 को प्रकाशित

भूंसे के वितरण में भेद -भाव का आरोप

महोबा के जैतपुर ब्लॉक के कमलपुरा और अतरठा गांव में गरीबों को नहीं मिला पूरा भूंसा