भारत का पहला खगोल विज्ञान आश्रम

साभार: पिक्साबेय

घूमनें वालों को हम आज घूमनें की एक नई जगह बताने वाले हैं। अलवर जिले में स्थित सरिस्का में दक्षिण एशिया का पहला अंतरिक्ष और खगोल विज्ञान पर आधारित होटल और उससे जुड़ी गतिविधि का केंद्र भी है।घूमनें वालों को हम आज घूमनें की एक नई जगह बताने वाले हैं। अलवर जिले में स्थित सरिस्का में दक्षिण एशिया का पहला अंतरिक्ष और खगोल विज्ञान पर आधारित होटल और उससे जुड़ी गतिविधि का केंद्र भी है। उत्साही खगोलविद् और वन्य जीवन से प्यार करने वाले सचिन बहम्बा कहते हैं कि यहां का मुख्य आकर्षण शाम और रात को आकाश को देखना है। साथ ही आप यहां जंगल में घूमने के साथ अनोखे प्रवासी पक्षियों को देख सकते हैं। यहां का मुख्य आकर्षण शाम और तारों से भरी रात को देखना है। ये भारत की सबसे बेहतरीन जगह हैं, जहां आप काले आसमान में चमकते तारों को देख सकते हैं। इस जगह से भानगढ़ की दूरी मात्र 16 किलोमीटर है, जो अपने भूतिया कहानियों के लिए मशहूर है। तो जल्द ही इस जगह पर घूमने की योजना बनाएं और देश के सबसे खूबसूरत तारों से भरे आसमान को देखें।