भारतीय छात्र ने विदेश में की साथियों से दुनिया बेहतर बनाने की गुजारिश

साभार: यूट्यूब

अमरीका की मशहूर यूसी बर्कले हास विश्वविद्यालय में पढने वाले एक भारतीय छात्र अंगद सिंह पद्दा ने अपने विदाई समारोह में ऐसा भाषण दिया कि वो इंटरनेट पर फैल गया।

इस युवक ने अपने विदाई भाषण में अपने साथियों से ना सिर्फ व्यापार में अच्छा करने की बात की बल्कि विश्व को बेहतर बनाने की भी बात कही है।

चंडीगढ़ के अंगद को इस विश्वविद्यालय ने ‘सुम्मा कम लौड’ से सम्मानित किया है, जो इस विश्वविद्यालय का सबसे बड़ा सम्मान माना जाता है

अंगद ने अपने भाषण की शुरूआत तबला बजाकर की, और इसके बाद अपने साथियों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि अगर दुनिया में कहीं हिजाब की वजह से मुस्लिम महिला को परेशान किया जाता है, सिख को पगड़ियों की वजह से मुश्किलें होती हैं, वेनेजुएला में भूखमरी, सीरिया में हमले में कोई पिता अपने पूरे परिवार को गंवा देता है। समाज और दुनिया की समस्याओं को बताते हुए उन्होंने अपने गांव की कहानी भी बताई, कि कैसे उन्होंने अपने दो दोस्तों को नशे के चलते खो दिया।

अंगद ने कहा कि युवा पीढ़ी को एक ऐसी दुनिया का निर्माण करना है जहां नस्ल, धर्म, भाषा के नाम पर भेदभाव नहीं किया जाता हो। और दुनिया भर में अच्छाई को लाने के लिए प्रयास करना चाहिए