भाग्य के सहारे मिला योगेश्वर को चांदी का पदक

14203280_1163254670397980_6816928374401422740_nभारत के स्टार पहलवान योगेश्वर दत्त ने 2012 लंदन ओलंपिक में कांस्य पदक जीता था, वो अब रजत पदक में बदल गया है।
लंदन ओलंपिक में पहलवान योगेश्वर दत्त तीसरे नंबर पर रहे थे। जिसकी वजह से उन्हें कांस्य पदक मिला था। लेकिन जिस रूसी पहलवान को लंदन ओलंपिक में रजत मिला था उसका डोप टेस्ट पॉजिटिव पाया गया है, ऐसे में अब उसका पदक वापस लिया जाएगा, और तीसरे नंबर पर रहे योगेश्वर को पदक बदल कर रजत पदक दिया जायेगा
लंदन ओलंपिक में फ्रीस्टाइल के 60 किलोग्राम वर्ग में रूसी पहलवान बेसिक कुदुखोल ने सिल्वर मेडल पर कब्जा जमाया था, और इसी मैच में योगेश्वर को कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा था।
लेकिन, योगेश्वर दत्त ने 2012 के लंदन ओलिंपिक में मिले कांस्य पदक को चांदी में बदलने पर नाखुशी जताई है। योगेश्वर ने सोशल मीडिया में कहा कि रजत पदक को मानवीय आधार पर रूस के दिवंगत पहलवान बेसिक कुदुखोव की फैमिली के पास ही रहने दिया जाए। बता दें कि कुदुखोव के डोपिंग टेस्ट में दोषी पाए जाने के बाद उनका रजत पदक छीन लिया गया है।