‘भण्डारा = जनसम्पर्क’ का नारा क्यों दे रहे हैं विधायक जी, देखें चित्रकूट के मऊ और मानिकपुर की विडियो से

जिला चित्रकूट के मऊ मानिकपुर ब्लाक मा वर्तमान विधायक आर. के. पटेल का भंडारा कार्यक्रम जोर-शोर से चलत हैं। नये साल से अबै तक तीन भंडारा होइ चुके हवैं। विधायक जनता से सम्पर्क करे खातिर भंडारा करत हवै पै जनता का विधायक का नाम तक नहीं पता आय।
गायत्री देवी का कहब हवै कि हमें नहीं पता कि को भंडारा करिस हवै। नाथू का कहब हवै कि भंडारा खाय आय हौं पै या नहीं पता कि भंडारा को करावत हवै। कैलासिया बताइस कि भंडारा मा सूखी सब्जी, पूड़ी अउर बूंदी सबै कुछ रहा हवै।सुकरू सिंह राजपूत का कहब हवै कि देवी के दर्शन करे अउर भंडारा खायें खातिर हिंया आये हन। आर. के. पटेल आपन श्रद्धा से भंडारा करिन हवै। आशा कार्यकर्ता मुन्नी का कहब हवै कि भंडारा खा के जय-जयकार करत हवै, पै विकास करावै का ध्यान नहीं देत आहीं। मास्टर शोभा सिंह का कहब हवै कि तीस बच्चन का भंडारा मा लइके आये हौं। बच्चन से खाना परोसे का काम करावा जात हवैं। अबै तक एक हजार मड़ई भंडारा खा चुके हवैं। शिवकुमार का कहब हवै कि स्कूल के मैडम भंडारा खाय खातिर लेवा लाई हवै।
विधायक आर. के. पटेल का कहब हवै कि चित्रकूट मा जहां देवी-देवता के मन्दिर हवै, हुंवा पूजा कइके सबै मड़इन के साथै भंडारा का प्रसाद खायें हौं अउर आगे के रणनीति मा आपन पदाधिकारिन से राजनीति के बारें मा चर्चा कीन जात हवै।
भाजपा कार्यकर्ताममता तिवारी का कहब हवै कि अबै तक बरगढ़, परानू बाबा, लालपुर, मऊ अउर कर्वी समेत छह-सात जघा भंडारा होइ चुका हवैं। मड़इन से मेलजोल बढ़ावै अउर मड़इन के समस्या जानें खातिर भंडारा कीन गा हवै। जीत के खुशी अउर राजनीति मा आगे बढ़े खातिर भी या भंडारा कीन गा हवै।

रिपोर्टर- मीरा जाटव और नाजनी रिजवी

Published on Feb 6, 2018