बैडमिंटन खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत पद्मश्री मिलने पर हैरान थे

20 मार्च को राष्ट्रपति भवन में आयोजित कार्यक्रम में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दिग्गज बैडमिंटन खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत को देश के चौथे सबसे बड़ा नागरिक सम्मान पद्मश्री से सम्मानित किया गया।
श्रीकांत इस सम्मान को मिलने पर उन्होंने कहा, मैं बहुत खुश हूँ और बेहद उत्साहित भी लेकिन मुझे उम्मीद नहीं थी कि यह सम्मान मुझे मिलेगा।  मुझे पता था कि लिस्ट में मेरा भी नाम शामिल किया गया था लेकिन सम्मान मिलेगा इसका अंदाजा नहीं था।  यह बहुत प्रोत्साहित करने वाला है।
बता दें कि 25 साल की उम्र में श्रीकांत भारत में पद्मश्री पाने वाले दूसरे युवा खिलाड़ी हैं। इससे पहले पी। वी।  सिंधु को 19 वर्ष की आयु में यह सम्मान मिल चूका है।
अर्जुन पुरस्कार विजेता  श्रीकांत ने 2015 स्विस ओपन ग्रां प्री गोल्ड में स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले पुरुष बैडमिंटन खिलाड़ी थे।
देश के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कारों में से एक, पद्म पुरस्कार को तीन श्रेणियों में प्रदान किया जाता है, पद्म विभूषण, पद्म भूषण और पद्म श्री।
असाधारण और प्रतिष्ठित सेवा के लिएपद्म विभूषणप्रदान किया जाता है, उच्च पद के प्रतिष्ठित सेवा के लिएपद्मभूषणऔर किसी भी क्षेत्र में प्रतिष्ठित सेवा के लिएपद्म श्री