बेटी बचाओ, बेटी पढाओ पर दिल्ली में हुई वर्क शॉप

d69239bb-a89e-47de-9977-f972bd538ea4 copy7 जून 2016 को दुनिया भर से आई प्रत्रकारों कि एक दिन की वर्कशाॅप दिल्ली के विज्ञान भीवन में हुई। इस कार्यक्रम में खबर लहरिया सहित 250 महिला पत्रकार देश के कोने-कोने से बुलाई गई थी। जिसमें तेरह राज्यों से लोग शामिल थे।
यह कार्यक्रम महिला एवं बाल विकास मंत्रालय कि ओर से रखा गया था। बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ को लेकर किया है। इस कार्यक्रम में प्रिंट और इलेक्ट्राॅनिक मिडिया जुड़ी थी जो जमीनी स्तर पर रिर्पोटिंग करने का काम कर रही है।
कार्यक्रम में महिला पत्रकारों को देखकर खुशी हुई कि देश के हर कोने में महिला पत्रकार जमीनी स्तर में काम कर रही है। परंतु सरकार का कार्यक्रम मीडिया के लिए कुछ खास नहीं रहा है।
कार्यक्रम का आयोजन करने वाली महिला एवं बाल विकास मंत्रालय भाजपा मंत्री मेनका गांधी के तरफ से चल रहा था।
पुरे दिन उनकी तरफ से भाजपा सरकार द्वारा करवाये गये कार्य का विवरण दिया गया है। इससे यह पता लगा कि सरकार के कार्यकाल के दो वर्ष पूरे हुए हैं, इसलिए यह कार्यक्रम रखा गया है।
सबसे ज्यादा तो पार्टी और मोदी के प्रचार-प्रसार ही देखने को मिले है। मेनका गांधी ने कहा कि हमारी सरकार में कोई भी काम ढिला नहीं है। सारे काम तुरंत ही करवाये जाते है। पर वहीं देखने को मिला कि देश भर से आई हुई महिला कलाकारों का आने जाने का खर्च जो वहां से भुगतान किया जा रहा था, उसके लिए शाम पांच बजे से रात ग्यारह बजे तक लोगों को लाईन लगाना पड़ा।
जहां ढाई सौ लोगों के लिए उन्ही के अधिकारियों ने पूरे सात घण्टे लेन-देन में लगा दिये तो पूरे देश का काम मिनटों में कैसे हो सकता है।
कई महिला रिर्पोटरों का कहना था कि यहां तो अपने प्रचार-प्रसार के लिए बुलाया था। हम महिलाओं का तो कुछ नहीं हुआ पर सरकार का प्रचार काफी हो गया है।
पर हा इस में एक बात तो अच्छी हूई कि हम सब महिला रिर्पोटर एक जगह पर मिल सके।
सरकार ने महिला पत्रकारों को इक्ट्ठा करके अपने काम की प्रचार करने के लिए अच्छा रास्ता अपनाया