बुन्देलखण्ड किसान यूनियन के लोगों ने किया डी आई जी और विकास भवन का घेराव

 जिला बांदा, शहर बांदा बुंदेलख़ण्ड किसान यूनियन के मड़ई 11अगसत का डी.आई.जी.अउर विकास भवन का घेराव करिन। घेराव करै का कारन रहै कि लेखपाल अउर कोटेदार बहुतै मनमानी करत है। हेंया तक कि लेखपाल औरतन के साथै मारपीट भी करत हैं।
किसान यूनियन के लोगन का कहब है कि लोग दुइ दुइ दरकी आनलाइन राशन कार्ड क फ़ारम भर चुके है। यहिके बादौ उनकर राशन कार्ड नही बना आय। मड़ई विकलांग पेंशन अउर विधवा पेंशन खातिर हेंया हुंवा भटकत फिरत हैं। उनकर उमर तक बीत जात है विभाग के चक्कर लगावत लगावत,पै पेंशन मिलै का नाम नहीं आवत आय। अगर औरते लेखपाल से कहत हैं कि हमका सूखा राहत का चेक नही मिला आय। या फेर हमार घर बरसात मा गिर गा है। वहिकर मुआवजा नहीं मिला है। कबै तक मा हमार मुआवजा सरकार कइती से आई। या बात का जवाब लेखपाल बहुतै खराब ढंग से देत है। यहिनतान महोबा जिला के कुलपहाड़ शहर के रहैं वाली एक औरत के साथै छेड़खानी करिस रहै। वा औरत थाना मा रपट लिखावै गई रहै तौ थानाध्यक्ष वा औरत के रपट नहीं लिखिस रहै। जबैकि या मामला के जांच रुपिया दइके रपट लिखै से पहिले होइगे रहै। या मामला के नीकतान से जांच होय का चाही। काहे से कि लेखपाल बहुतै गलत तरीका से औरतन के साथै व्यवहार करत हैं।
किसान यूनियन के एक औरत का कहब है कि 3 अगस्त का लेखपाल हेमराज सर्व़े करै खातिर गा रहै। मैं लेखपाल से कहेंव कि मोहिका कुछौ नहीं मिलत आय। वा कहिस कि पहिले रुपिया देव इनतना करौ उनतना करौ। तबहिने तौ सबै कुछ मिल सकत है। का योजना का लाभ सेंत मा लें चाहत हौ। कुछौ पावै खातिर खोये का परत है।

रिपोर्टर- किवता और मीरा देवी