बुजुर्गों के लिए बनी वृद्धा पेंशन हुई ललितपुर जिले में बेसहारा

बुजुर्गो के लिए सहारा बनी वृद्धा पेंशन योजन ललितपुर के मडावरा ब्लाक के बम्हौरी गांव में कुछ और ही कहानी बयां कर रहे है। गांव के सभी बुजुर्ग बिना पेंशन के गुजारा कर रहे हैं। ग्राम पंचायत से आवेदन न होने के कारण लोग पेंशन से दूर हैं।
जुक्ति का कहना है कि हमारे मुहल्लें में किसी को पेंशन नहीं मिलती है, पहले कुछ लोगों को महामाया की पेंशन मिलती थी अब उनका भी नाम कट चूका है।
सोना रानी ने बताया कि कभी पेंशन नहीं मिली है। इधर-उधर से मांगकर खर्चा चलाते हैं। बाबू ने बताया कि हाथ टूटने के कारण दो साल से घर में बैठा हूं, बड़े मुश्किल से खर्चा चलता है। प्रेम दुलारी का कहना है कि लोगों से मांगकर अपना खर्च चलाते हैं।
समाज कल्याण अधिकारी लक्ष्मण सिंह तोमर का कहना है कि जिन लोगों को पेंशन नहीं मिलती है तो ग्राम पंचायत से आवेदन करवाकर आनलाइन करें, तब यहां से कार्यवाही होगी।

रिपोर्टर- सुषमा

Published on Mar 22, 2018