बीमारी से जूझ रही महोबा जिला के भीतरकोट मोहल्ला की मोना ने लगाई फांसी

जिला महोबा कोतवाली क्षेत्र के भीतरकोट मोहल्ला की 15 साल की मोना आहिरवार ने 19 मई को सुबह 11 बजे अपने ही घर में फांसी लगाकर जान दे दी। फांसी लगाने की वजह बीमारी बताई जा रही है।

पिता कालीचरन ने बताया कि तबियत खराब रहती थी। मैं काम चला गया था। वो अकेली थी, तो तबियत से परेशान होकर उसने फांसी लगा ली है। बहन सोनम ने बताया कि पिछले एक साल से उसके पेट में दर्द रहता था, लेकिन जब अस्पताल लेकर गये, तो पता चला कि उसके पेट में गांठ है। दवा कराने पर ठीक भी हो गई थी। लेकिन अभी तीन चार दिन पहले फिर से उसके पेट में दर्द उठा, तो फिर से अस्पताल लेकर गये थे, तो डाक्टर ने दूसरे दिन अल्ट्रासाउंड कराने के लिए बोला था। जब घर लाये, तो उसने बीमारी से तंग आकर फांसी लगा ली।

कोतवाल महोबा विक्रमजीत का कहना है कि महोबा जिले के भीतरकोट मोहल्ला की रहने वाली मोना ने बीमारी से तंग आकर उसने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली है। जिसके संबंध में पंचनामा बनाया जा रहा है जांच कर कार्यवाही की जायेगी।

रिपोर्टर: सुनीता प्रजापति

Published on May 21, 2018