बीजेपी नेताओं से भिड़ती यूपी की पुलिस अधिकारी श्रेष्ठा ठाकुर का विडियो वायरल

साभार: यूट्यूब

सोशल मीडिया पर उत्तर प्रदेश की एक दबंग महिला पुलिस अफसर का एक विडियो वायरल हो रहा है। विडियो में यह अफसर बीजेपी के नेताओं से भिड़ती दिख नजर आ रही हैं।

मामला 22 जून का है, जब स्याना पुलिस थाने की सीओ श्रेष्ठा ठाकुर गाड़ियों की चेकिंग कर रही थीं। रास्ते में स्थानीय बीजेपी नेता प्रमोद लोधी बिना हेलमेट लगाए अपनी बाइक से चले जा रहे थे। उनके पास गाड़ी के पूरे कागजात भी नहीं थे। सीओ ने जब उन्हें रोककर चालान काट दिया, तो वे भड़क गए।

इस दौरान बीजेपी नेताओं ने सीओ श्रेष्ठा ठाकुर से से जमकर बहस की। सीओ ने भी उन्हें मुंहतोड़ जवाब दिया। सभी नेता इस बात से नाराज थे कि पुलिस ने चालान क्यों काटा। श्रेष्ठा ने उन सभी को जवाब देते हुए कहा, कि आप सभी मुख्यमंत्री के ऑफिस से लिखवाकर लाइए कि बिना हेलमेट गाड़ी चलाने वालों का चालान काटना गलत है, तो हम चालान नहीं काटेंगे। श्रेष्ठा के इतना कहने पर बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पुलिस प्रशासन मुर्दाबाद के नारे लगाना शुरू कर दिए। इसके बाद महिला अफसर ने निडरता और बेबाकी से कहा कि यहां 50 की जगह 100 लोग भी ले आइए तो भी मैं डरने वाली नहीं हूं।

बीजेपी कार्यकर्ता के समर्थन में स्याना के विधायक देवेंद्र लोधी भी पहुंच गए। कचहरी में ही वह लेडी अफसर से भिड़ते हुए बोले कि आपने चालान क्यों काटा? महिला अफसर ने कहा कि देखो पहले तो ऑफिस में करने वाली बात मैं कचहरी में करने वाली नहीं हूं और जितने लोग हों सबके खिलाफ मुकदमा करेंगे। साथ ही वे ये भी बोलीं, कि आप सीएम साहब से लिखा लाओ कि पुलिस को गाड़ियों की चेकिंग करने का अधिकार नहीं है, हम रोड पर खड़े होना बंद कर देंगे। इतने पर बीजेपी विधायक बिफर पड़े, उन्होंने कहा, कि हम सभी को जेल में डाल दीजिए तो महिला पुलिस अफसर ने कहा कि आप लोग अगर वैसा काम करेंगे तो जेल भी चले जाएंगे।

बता दें कि यूपी में महिला पुलिस के साथ नेताओं की अभद्रता का यह पहला मामला नहीं है। इसके पहले अभी हाल ही में गोरखपुर में महिला आईपीएस ऑफिसर चारू निगम से भी बीजेपी के ही विधायक राधा मोहन दास अग्रवाल ने अभद्रता पूर्वक बात की थी।