बिना पैसा कै नाय हुवय सुनवाई

01-07-15 Maya - Tandauli Pension webजिला फैजाबाद, ब्लाक मया, ग्रामसभा टंडौली। हिंआ वृद्धा विधवा पेंशन अउर कालोनी पात्रन का नाय मिलत बाय। प्रधान से कहै पै प्रधान कहाथिन पैसा लागाथै।

अट्ठावन साल कै तराबुन निशा कै पति सुख उल्हा अउर पैंतिस साल कै सूरसती कै पति रामशरण अउर सूरसती बताइन कि हमरे पति रामकुबेर कै कहब बाय कि दूसरा साल लाग बाय। हमार आदमी खतम होय गये। लकिन प्रधान अबहीं पेंशन नाय बनुवाइन। छपरा के घरमा रहत हई। कालोनी नाय पास कराइन। जब बात करातौ कहाथे पैसा लागाथै।

लेखपाल घूस मांगाथिन कहाथिन बिना पैसा कै काम नाय हुवत। हमरे पास अगर घूस दियै कै पैसा हुवत तौ अपने गेदहरन से मजदूरी न कराइत। दुइनौ जून कै खाना नसीब नाय हुवत। पढ़ाई.लिखाई कहां से कराई।

प्रधान जगन्नाथ गुप्ता बताइन कि इनके सबकै समाजवादी पेंशन मा नाम डराय देहे हई। मीरा देवी का पांच सौ रूपया महीना मिलत बाय। बाकी यहि समय सरकार के पास पैसा नाय बाय। यहीसे नाय आवत बाय। लोहिया दुई चारठी आय रहा। प्रशासन से मंाग करे हई। धीरे.धीरे सबका पूरा करा जाये।