बिजली के पते न बिल आ गेल

बिल देखबईत लोग
बिल देखबईत लोग

जिला सीतामढ़ी, प्रखण्ड सोनबरसा, पंचायत भलुआहा, गांव रामनगरा अउर रीगा प्रखण्ड के गांव चंडिया। उहां पुरे गांव मे तार-पोल लगल हई अउर बिजली के नामों निशान न हई। लेकिन पुरे गांव के लोग के नाम से बिजली विल मिल गेलई हई।
उहां के महादलित लोग असर्फी राम, रामेशवर राम कहलथिन कि इहां चार सौ लोग बी.पी.एल. परिवार में हई। पन्द्रह साल पहिले कुछ ठीकेदार आयल रहई, जे एगो पाईप पैतीस मीटर तार अउर एगो बल्ब लगाके चल गेलई। उ कहले रहथिन कि कुछ दिन बाद बिजली आ जतई, लेकिन बिजली अयबे न कलई अउर विल सबके घरे-घरे पहुच गेलई।
एई सही चंडिया गांव में बिजली के वोल्टेज बहुत कम रहई छई। जेई कारण टी.वी., पंखा अउर रौषनी के विना बच्चा सबके पढ़ाई न हो पवई छई। लेकिन बिजली बिल चल गेल हई।
मुखिया पति षिवजी भंडारी कहलथिन कि हम वोल्टेज बढ़ावे के लेल बिजली विभाग में आवेदन देबई। बिजली विभाग के बड़ा बाबू धीरज कुमार कहलथिन कि गांव के लोग लिखित आवेदन देथिन तब जांच कयल जतई।