बिजली की तारों के चपेट में बांदा का बंगालीपुरा मोहल्ला

बंगाली मुहल्ला मा 10 सालन से जर्जर तार लाग है पै बिजली विभाग कउनौ ध्यान नहीं देत आय। लागत है कउनौ बड़ी दुर्घटना के इंतज़ार करत है।
अनिल सिंह बताइस कि हिंया 10 सालन से पुरान तार लाग है हिंया कउनौ समय भी बड़ी दुर्घटना होइ सकत है। हिंया छोट-छोट बच्चा खेलत रहत है रोड़ से मड़ई भी निकलत है।
चंद्रभान घुरिया  बताइस कि हर समय दुर्घटना के डेर बनी रहत है| कउनौ दुर्घटना न होइ जाय।  काहे से तार भी बहुतै तारे लागी है। अउर बहुतै मड़ई बताइन कि 10 सालन से तार बदली नहीं गई आहीं एक दरकी 2 जानवरन के जान चली गे है बिजली विभाग मा दरखास दई दीने हन पै अबै तक कउनौ सुनवाई नहीं भे आय। वाटशाप मा भी भेजा हन पै कउनौ सुधार नहीं आय। यस.डी.ओ हिमांशु  का कहब है कि बंगाली पुरा मुहल्ला मा जउन तार लाग है वहिकर येस्टीमेट बन गा है|टेंडर पास होइगा है जल्दी काम शुरू होइ जई।

बाईलाइन-गीता देवी

06/09/2017 को प्रकाशित