बिगरो हैण्डपम्प, पानी खा तरसें

हैंण्डपम्प को जा हाल
हैंण्डपम्प को जा हाल

एते हले ओर जालिब मोहल्ला के बीच में एक हैंण्डपम्प लगो हे। ऊ हैंण्डपम्प भी तीन महीना से खराब परो हे। जीसे ओते के आदमी पानी खा एते ओते भटकत फिरत हें, ओर हैंण्डपम्प सुधरायें खे मांग करत हें।
सुरेन्द्र कुमार ओर नन्द किशोर ने बताओ कि हमाये मोहल्ला में दो हैंण्डपम्प लगे हते। जोन एक हैण्डपम्प तीन महीना से खराब परो हे। अब तो पानी खे लाने एते ओते भटकत फिरत हें। पिये के पानी खा कुंआ या फिर पांच सौ मीटर दूर बस स्टैण्ड पानी भरने जाने परत हे। एते से दिन भर में हजारन आदमी निकरत हें। आज कल गर्मी में तनक तनक देर में पानी पिये खा मन करत हे। पे ई रास्ता में बस स्टैण्ड से बाजार तक एकऊ हैण्डपम्प नइयां कि आदमी पानी पीके आपन प्यास बुझा सके। हैण्डपम्प सुधरायें खे लाने नगर पंचायत में केऊ दइयां सूचना दई हे, पे ईखो ध्यान कोनऊ नई देत आय।
खरेला नगर पंचायत के बाबू सत्यप्रकाश ने बताओ कि हैण्डपम्प सुधरायें खा काम जल संस्थान को आय। हम ईमें कछू नई कर सकत हें। खरेला हैण्डपम्प सुधरायें की जिम्मेंदारी देखें वाले ठेकेदार (आपरेटर) रमेंश सिंह ने बताओ कि ऊ हैण्डपम्प खे लाइन तरे गिर गई हे। जीसे ऊ हैण्डपम्प सुधर नई सकत हे। एक महीना पेहले ऊखे रीबोर करायें खे लाने लिख के महोबा भेज दओ हे।