बांदा मा नये एस.पी. अरविंद सेन

एस.पी. अरविंद सेन
एस.पी. अरविंद सेन

24 जनवरी 2014 का बांदा जिला मा नए एस.पी. अरविंद सेन आ गे। यहिके पहिले इं उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ जिला मा एस.एस.पी. के पद मा रहैं। एस.पी. से बांदा जिला के कुछ घटनन का लइके खबर लहरिया पत्रकार सवाल जवाब के जरिया बात चीत करिन।
सवाल-बांदा जिला मा चोरी, लूटपाट, और हत्या के मामला आय दिन बढ़त जात हैं। इनका रोकै खातिर आप का कारवाही करिहौ?
जवाब-चोरी, लूटपाट अउर हत्या जइसे के घटना होंआ होत है जहां गरीबी, नशाखोरी, जुआं अउर दुश्मनी है। रूपिया के जरूरत पूरी करैं खातिर इनतान के वारदातन का बढ़ावा मिलत है। या सब अशिक्षा के कारन होत है। पहिले यहिका रोका जाय तबै इनतान के घटना मा रोक लाग सकत है।
सवाल-छेड़खानी, बलात्कार, अपहरण अउर महिला हिंसा जइसे मामलन का रोकै खातिर आप का कारवाही करिहौ?
जवाब-छेड़खानी, बलात्कार अपहरण अउर महिला हिंसा जइसे के घटना सामाजिक अपराध आहीं। जेतना ज्यादा बिटिया सशक्त अउर पढ़ लिख जइहैं वतना ही इं घटनन मा कमी अई। इनतान के समस्या डण्डा अउर कानून से दूर कीन जा सकत है। अगर इनतान के कउनौ घटना होई तौ वहिका रोकै खातिर कड़ी कारवाही कीन जई।
सवाल-कइयौ दरकी जनता बोलत है कि पुलिस रूपिया मिल गा है। या मारे उनके मामला मा कारवाही नहीं होत?
जवाब-अगर मोर जानकारी मा इनतान के मामला अइहैं तौ कारवाही जरूर कीन जई। पक्ष विपक्ष के जरिया पुलिस के ऊपर आरोप लगावब आम बात है।