बांदा जिले में अंग्रेजों के जमाने में हुई सर्वे से हो रहा है काम

जिला बांदा, ब्लाक नरैनी| अंग्रेजन के जमाना मा अतर्रा से नरैनी अउर इलाहाबाद तक जाये  खातिर रेलवे लाइन का सर्वे कीन गा रहै| रेलवे लाइन का चिन्ह बनावै खातिर खेतन मा आज भी पत्थर गाड़े हैं| पै रेलवे लाइन बनावै खातिर अबै तक कउनौ कारवाही नहीं कीन गे आय| यहिके खातिर सांसद भैरों प्रसाद मिश्रा कहत है कि रेलवे लाइन बनावै खातिर पैतालिस सौ ग्यारह करोड़ रुपिया का प्रोजेक्ट है|लोकसभा मा प्रस्ताव दीनेहौ| झांसी के काम चालू होइगा है| सीताचरण बताइस कि अंग्रेजन के जमाना मा सर्वे कीन गा रहै तबै खेतन मा पत्थर गाड़े गें  रहैं, पै अबै तक रेलवे लाइन बनावै खातिर कउनौ नेता अउर मंत्री ध्यान नहीं दिहिन आहीं|
जितेन्द्र का कहब है कि रेलवे लाइन बन जायें से आवे जाए मा सुविधा होइ अउर ब्यापार भी बढ़ जई|विदेशी पयर्टक का भी सुविधा मिली|
वकील सुनील कुमार मिश्रा का कहब है कि बूढ़ मड़इन से सुना है कि अतर्रा से सतना खातिर रेलवे लाइन का सर्वे कीन गा रहै| सांसद भैरों  प्रसाद फेर से सर्वे कराइन हैं अउर रेलवे लाइन बनवावै का कहिन हैं|

बाइलाइन-गीता देवी और नाजनी रिजवी

11/09/2017 को प्रकाशित