बांदा जिले के सुरेन्द्र मस्ताना के गीत को सुनकर आप हो जाएंगे मस्त

जिला बांदा, ब्लाक नरैनी, कस्बा नरैनी|सुरेन्द्र मस्ताना का बचपन से गाना गावे बजावे का शौक रहै यहै शौक के कारन वहिका संगीता मास्टर के नौकरी मिली है|विवेकानंद इंटर कालेज मा वा संगीत मास्टर है|संगीत मास्टर सुरेन्द्र मस्ताना का कहब है कि जबै मैं कक्षा दुई मा पढ़त रहेंव तबै से ढोलक बजावे सीखे हौं अउर स्कूल के सांस्कृतिक कार्यक्रम मा भाग लेत रहेंव अच्छे कलाकार के गजल अउर कव्वाली लिख लेत रहेंव|स्कूल मा खाली समय मा बच्चन का संगीत सिखावत हौं|बच्चन का या कला नींकतान से सिखावत हौं खेल कूद प्रतियोगिता मा सांस्कृतिक कार्यक्रम कीन जात है बच्चन का वहिके तैयारी करावत हौं|मोहिका संगीत खातिर कइयौ इनाम मिले हैं यहिसे मैं बहुतै खुश हौं|

बाईलाइन-गीता

11/09/2017 को प्रकाशित