बांदा जिले के लोगों से सुनिए शादी अनुदान योजना की हकीक़त

जिला बांदा, ब्लाक तिंदवारी, गांव जमालपुर 2005 मा कन्या विवाह योजना के शुरुआत  कीन गे रहै जेहिमा गरीब परिवार के लड़की के शादी खातिर 20 हजार रुपिया के अनुदान दें का कहा गा रहै। पै या योजना चले से मड़इन का फायदा से ज्यादा नुकशान होत है। काहे से मड़इन का हजारन रुपिया अधिकारिन के चक्कर लगावत खर्च होइ जात हैं मिलत कुछौ नहीं आय। जिला बांदा, ब्लाक तिंदवारी, गांव जमालपुर 2005 मा कन्या विवाह योजना के शुरुआत  कीन गे रहै जेहिमा गरीब परिवार के लड़की के शादी खातिर 20 हजार रुपिया के अनुदान दें का कहा गा रहै। पै या योजना चले से मड़इन का फायदा से ज्यादा नुकशान होत है। काहे से मड़इन का हजारन रुपिया अधिकारिन के चक्कर लगावत खर्च होइ जात हैं मिलत कुछौ नहीं आय। इंद्ररीश बताइस कि 4 जून 2016 का लड़की के शादी कीने रहेंव तबै शादी करै खातिर रुपिया निकालै का फार्म भरे रहेंव पै कइयौ दरकी ब्लाक अउर विकास भवन के चक्कर लगावे के बाद भी रुपिया नहीं मिला आय। सुमित्रा बताइस कि शादी खातिर रुपिया निकाले खातिर आंनलाइन करावा गा रहै सचिव हमें घुमावत है। विकास भवन मा जाओ तौ हुंवा के बाबू डांटत है शिवपूजन बताइस कि 15 दरकी विकास भवन अउर तीन दरकी ब्लाक गये हन तबहूं शादी का रुपिया नहीं मिला आय। अधिकारी कहि देत हैं अगले महीना रुपिया मिली।  गीता बताइस कि अधिकारिन के चक्कर लगावत अबै तक 5-6 हजार रुपिया खर्च होइ गा है पै मिला कुछौ नहीं आय।प्रधान छोटा प्रसाद बताइस कि आंनलाइन  होय के बाद जांच होत है वहिके बाद रुपिया मिलत है। समाज कल्याण अधिकारी आर .डी यादव का कहब है कि शादी अनुदान के फार्म सी,डी ओ का भेजे जात है वहिके बाद रुपिया मिलत है।

रिपोर्टर- मीरा देवी

11/07/2017 को प्रकाशित