बांदा जिले के खभौरा गाँव में दहेज़ के लिए महिला की हत्या करने की कोशिश

बांदा जिला के ब्लाक महुंवा गांव ख़भौरा के रहै वाली कंचन ससुरालवालेन के प्रताड़ना के भे शिकार। कंचन का आरोप है कि शादी के दस दिन बाद से दहेज खातिर मारत पीटत रहै। 16 अप्रैल का जान से मारै के कोशिश किहिन, पै थाना मा कउनौ सुनवाई नहीं होत आय।

शिकायतकर्ता कंचन का कहब है कि दहेज मागे के खातिर मोहिका जान से मारे के कोशिश किहिन। उनकर नाम हैं, गोपी, अजय, विजय, श्यामदुलारे, राजबहादुर, सरोजनी, तीन सास अउर तीन ससुर एक देवर अउर मड़ई है। शादी का डेढ़ साल होइगे हैं।  कंचन का बाप रमेश बताइस कि सबै ससुरे वाले मड़ई मिलके मारिन हैं। जेहिसे बहुते ज्यादा अंदरूनी चोट आईं हैं। कउनौ सुनवाई नहीं होत आय तौ मेडिकल कसत कराऊ। मोहिका फोन आवा कि तुम्हार कंचन घर मा नहीं आय, तौ मैं ढूढें का निकरे हौ, तौ मोर लड़की मोहिका रास्ता मा मिल गे है। दहेज मा कूलर, पंखा, टीवी, बीसीआर, फ्रिज एलसीडी, बीस हजार रुपिया नगद मांगत रहै, तौ मैं देय से मना कई दीन्हें हौं। अउर कहत रहै कि अगर घरे अइहें तौ एतना दहेज लईके आइहें नहीं तौ घर मा पांव न रखिहे। दस मड़ई मिलके मारिन हैं। सास, चचेरी सास, वहिका आदमी अजय, ससुर विजय, राजबहादुर, सरोजा, सुनीता, ललिता, बल्लीगजोधर, गोपी,। उनकर एक घर मा सबै मड़ई रहत हैं।

अतर्रा थाना मा या केस का लइके सीओ साहब से बात नहीं पाई आय, पै थानाध्यक्ष आपन बात कहे से साफ मना कई दिहिन हैं।

रिपोर्टर: सुनीता

Published on May 2, 2018