बांदा जिले के कई गांव के लोग हुए इकठ्ठा, डीएम और एसडीएम से की गांव की जांच की मांग

जिला बांदा। हेंया के ग्राम पंचायत बरकोला मा छनिहा पुरवा अउर लोधन पुरवा है जेहिमा हेंया रहै वाले नब्बे प्रतिशत मड़ई बहुतै गरीब हैं अउर इं मड़ई के लगे एकौ जमीन जायदाद नहीं आय।हेंया के  मड़इन का आरोप है कि हमें अबै तक आवास नहीं मिले आहीं। 2014 अउर 2015 मा जउन मड़इन आवास मिले रहै प्रधान उनसे दस-दस हजार रुपिया लिहिस रहै।यहै कारन हम डी.एम  अउर एस.डी एम से  जांच के मांग करें हन।
पूर्व प्रधान प्रहलाद बताइस कि आवास अपात्र मड़इन का दीन जात है,पात्र मड़ई भटकत हैं।स्वर्ण कुमार बताइस कि हम चाहित हन कि गरीबन का आवास के सुविधा मिलै।सुनीता का कहब है कि हम प्रधान का वोट नहीं दीन आय तौ वा हमें आवास नहीं देत आय।गोलू बताइस कि दुई साल पहिले प्रधान आवास खातिर दस-दस हजार रुपिया लिहिस रहै।प्रधान प्रतिनिधि राजकुमार बताइस कि कउनौ से रुपिया नहीं लीन गा आय। वी.डी.ओ  लालब्रत यादव का कहब है कि प्रधान रुपिया लिहिस है कि नहीं या बात के जांच कराई जई।

बाईलाइन-गीता देवी 

26 अक्टूबर 2017 को प्रकाशित