बांदा के पलरा पशु अस्पताल में एक महीने से पानी भरा हुआ, इलाज होता है सड़क-किनारे

बांदा के पलरा पशु अस्पताल में एक महीने से पानी भरा हुआ है नज़ारा कुछ ऐसा है कि जैसे अस्पताल में ही पोखर गयी हो इस बीच बीमार जानवरों का इलाज होना सम्भव नहीं हो पा रहा और उन्हें सड़कों के किनारे ही रस्सी से बाँध कर इलाज दिया जा रहा है
अस्पताल के चौकीदार अनुज कुमार का कहना है कि हम लोगों को यहाँ रहने में समस्या हो रही है रात भर कीडेमकोडे, सांप आदि निकलते रहते हैं जानवरों का इलाज भी ठीक से नहीं हो पा रहा है
वहीँ के कर्मचारी लालखान का कहना है कि सिर्फ पानी ही नहीं बल्कि इस इमारत की छतों पर भी पानी भरा हुआ है जिसकी वजह से पूरी इमारत ही कभी भी गिर सकती है हालाँकि इसकी शिकायत भी ऊपर की गयी है लेकिन अभी तक कोई सुनवाई नहीं हुई है
इस बारे में अस्पताल के डॉ कपिल कुमार का कहना है कि इलाज तो हो ही नहीं पा रहा है साथ ही हम सभी को आनेजाने में बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है
अपर निर्देशक डॉ अशोक कुमार सिंह बताते हैं कि पानी भरने की समस्या के लिए ग्राम सभा अपने स्तर से ही उसको देख सकती हैं ग्राम सभा अपना प्रस्ताव पारित करें और क्षेत्र पंचायत निधि से पैसा ले कर इस समस्या को दूर किया जा सकता है
इसके अलावा जर्जर होती इमारतों को नए सिरे से बनाने के लिए विभाग को सूचनाऍ दे दी गयी हैं और प्रधान चाहे तो इस कार्य को अपनी निगरानी में जल्द भी करा सकते हैं

रिपोर्टर- शिवदेवी 

Published on Aug 16, 2017