बाँदा में पांच पीढ़ियों से बना रहे हैं सोहनहलवा, जो जाता है विदेश और बच्चन साहब के घर भी!

जिला बांदा, 14 दिसंबर 2016। ‘बोडे़ राम स्वीट’ नाम की बांदा की ये छोटी सी दुकान अपने स्वाद के लिए बहुत मशहूर है। इस दूकान की शुरुआत 1922 में बोड़ेराम हलवाई ने की थी। आज इस दुकान को उनके नाती अनिल कुमार गुप्ता चलातें हैं। इस दुकान में बनने वाला सोहन हलवा अपने स्वाद के लिए बहुत प्रसिद्ध है – आपको बताते चले कि अमिताभ बच्चन के घर भी यहां से सोहन हलवा जाता है। लोग अपने रिश्तेदारों को दूसरे शहरों में यहां का सोहन हलवा भेट करते हैं, जिसमें भी मुख्य रुप से पाकिस्तान, अमेरिका और सउदी अरब जाता हैं।
पांच पीढ़ियों से चल रही इस दूकान के मालिक अनिल कुमार गुप्ता कहते हैं, “बाजार में वैसे सोहन हलवा 200 से 250 रुपये किलो बिकता हैं पर हम 480 रुपये किलो बेचते हैं, जिसकी वजह डालडा और देसी घी का फर्क है। बाजार में हर जगह लोग डालडा से सोहन हलवा बनाते हैं, इसलिए वे सस्ती लागत के कारण सस्ते में बेच देते हैं।”
इस दुकान में सोहन हलवा बनाने का तरीका भी थोड़ा हटकर है, क्योंकि ये कुठा हुआ अंकुरित गेंहू को मैदा और चीनी के घोलकर रात भर के लिए रख देते हैं। फिर दूसरे दिन कड़ाही में देसी घी में इसे खूब घोला जाता है। इस घोल को छोटी कटोरियों में सूखे मेवे के साथ सुखने के लिए रख देते हैं।
हालांकि इसकी कीमत बाजार के अन्य सोहन हलवा की तुलना में ज्यादा है पर ये अपने स्वाद और गुणवता के लिए हमेशा मांग में रहता है।
अनिल कुमार अपनी दुकान की बनी इस मिठाई की दीवानगी के बारे में बताते हैं कि यहां के लोग अपने विदेश में बसे रिश्तेदारों के यहां सोहन हलवा ले जाते हैं। अमिताभ बच्चन को भी यहां का सोहन हलवा पसंद हैं कहते हुए अनिल कुमार की खुशी चेहरे पर साफ देखने में आ जाती है।

रिपोर्टर- मीरा देवी 

10/12/2016 को प्रकाशित