बाँदा जिले के रानीपुर के सौता में पहुंची स्वास्थ्य टीम।

जिला बांदा, नरैनी ब्लाक, गांव रानीपुर सौंता हेयां अक्टूबर मा डेंगू बुखार से चार मड़इन के मउत होइगे रहै। तबै खबर लहरिया गांव के खबर निकालिन रहै। यहिसे स्वास्थ्य विभाग के टीम गांव मा आयी अउर मड़इन का दवा बांट के इलाज करिन ।
अर्चना पाण्डेय बताइस कि मोर जेठ के उमर 55 साल के रहै। डेंगू बुखार आवे के कारन उनकर मउत होइगे हैं। स्वास्थ्य टीम कबै आयी रहै यहिके बारे मा हमें कुछौ पता नहीं आय। हेंया कतो सफाई नहीं होत न मच्छर मारे वाली दवाई छिड़काई जात। जेहिसे हेंया गंदगी फइल रहत हैं। न कउनौ सफाई करमचारी आहीं यहै कारन 6 साल से हम खुदै नाली साफ करत हैं।
गोरेलाल अउर शिव पूजन तिवारी बताइन कि दशहरा के पहिले खबर लहरिया टीम आयी रहै। वहिके बाद नरैनी से स्वास्थ्य विभाग के टीम आयी है। मड़इन का बुला के दवाई बांटिन हैं। जेहिसे गांव के मड़इन का डेंगू जइसे बीमारी से राहत मिली हैं। मड़इन का गंदगी से बचाव के बारे मा बताइन हैं। हम चाहित हन कि टीम दुबारा फेर से आवैं अउर पूर गांव मा दवाई छिड़कावैं। जेहिसे बीमारी कम होइ सकैं।
आशा बहु मोतिमनी का कहब है कि स्वास्थ्य विभाग से दुई डाक्टर आये रहै। मडइन का बांटे खातिर दवाई दइगे है।

रिपोर्टर- गीता

Published on 27 Oct 2016