बाँदा जिले के महोरछा गाँव में चुनाव बहिष्कार के ऐलान पर नेताओं ने किए वादे, पर नहीं किए पूरे

जिला बांदा, ब्लाक नरैनी गांव महोरछा 2012 मा हेंया विधान सभा चुनाव भा रहै, तबै गांव के मड़ई विकास न होय के कारन चुनाव का बहिष्कार करै का कहिन रहै। तब बाद मा वोट दिहिन है।या साल के विधान सभा चुनाव मा गांव के मड़ई फेर से चुनाव बहिष्कार का कहत हैं।
राजेश्वर का कहब है कि हमार गांव मा एक किलोमीटर रास्ता बहुतै खराब है स्कूल नहीं बना आय, जेहिसे बच्चन का बहुतै दूरी पढ़े जाये का पड़त है। किसानन का भी हमरे गांव मा कुछौ सुविधा नहीं आय।
राज किशोर अउर कालू राम का कहब है कि पिछली बार विधानसभा चुनाव का हम बहिष्कार करै रहेन।
पै बाद मा वोट डाले हन।तबै वा समय हमार गांव का कुछौ विकास कीन गा रहै।अस्पताल बन गा है पै अबै भी कइयौ समस्या हैं। स्कूल अउर रास्ता बन जई तौ सब का फायदा होई या दरकी हम आपन गांव के सब मुद्दा उठाइबैं।
स्कूल जाये वाली बिटिया फूला देवी बताइस कि हमार स्कूल हेया से 11 किलोमीटर दूर हैं।जेहिसे स्कूल जाये मा बहुतै समय लागत है। जो कोउ हमार गांव का विकास कराइहैं,वहिका या दरकी हम वोट देबै। नहीं तौ कोऊ को न देबे।

रिपोर्टर- मीरा देवी

Published on Jan 20, 2017